amit-shah-with-arvind-kejri

आपका एक वोट तय करेगा आप शाहीन बाग के साथ या भारत माता के: अमित शाह

दिल्ली विधानसभा चुनावों के प्रचार में गृह मंत्री अमित शाह के आक्रामक तेवर लगातार देखने को मिल रहा है. बुधवार को भी नजफगढ़ से एक बार फिर उन्होंने शाहीन बाग के सहारे केजरीवाल पर हमला बोलने की कोशिश की.

modi vs Rahul Gandhi
modi vs Rahul Gandhi
amit-shah-with-arvind-kejri
amit-shah-with-arvind-kejri
  • नजफगढ़ में अमित शाह ने केजरीवाल पर किया हमला
  • अमित शाह ने अजीत खड़खड़ी के पक्ष में किया प्रचार

दिल्ली विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) शाहीन बाग के मुद्दे को लेकर आक्रामक हो गई है. बीजेपी नेताओं का पूरा फोकस अब शाहीन बाग पर ही है और इसे लेकर वह केजरीवाल सरकार पर हमलावर है. केंद्रीय गृह मंत्री और बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह ने नजफगढ़ में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि 8 फरवरी को आपका एक वोट तय करेगा कि आप शाहीन बाग वालों के साथ हैं या भारत माता के साथ.

दिल्ली के नजफगढ़ में अमित शाह ने कहा कि अजीत खड़खड़ी को जिताने के लिए यहां आया हूं. ये पूरा क्षेत्र वीर माताओं और वीर जवानों का क्षेत्र है. 8 तारीख को जब आप मतदान करें, तो ऐसे मत सोचना कि आपका एक वोट अजीत भाई को विधायक बनाएगा. आपका एक वोट पूरे देश में ये संदेश देने वाला है कि नजफगढ़ वाले शाहीन बाग के साथ हैं या भारत मां के बेटों के साथ है. आपका एक वोट यह संदेश देने वाला है कि इस देश को किस रास्ते पर चलना है.

इंदिरा के बहाने शाह ने लगाया केजरीवाल पर निशाना

आप सरकार पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा कि एक सरकार ऐसी है जो 5 साल से झूठ पर झूठ बोले जा रही है. एक जमाने में इंदिरा जी के आसपास रहने वाले लोग कहा करते थे इंडिया इज इंदिरा और इंदिरा इज इंडिया. केजरीवाल जी, आपके झूठ का पर्दाफाश किया तो दिल्ली का अपमान कैसे, आप अपने आपको दिल्ली समझते हो क्या. दिल्ली आप नहीं हो, दिल्ली तो नजफगढ़ के मतदाता हैं

उन्होंने आगे कहा कि आपने कहा था कि सरकार बनी तो सरकारी मकान कोई नहीं लेगा सरकारी गाड़ी कोई नहीं लेगा. सरकार बनने के बाद सबसे पहला काम था मकान और गाड़ी लेना. एक हजार स्कूल खोलने वाले थे, गांव वालों बताओ आपके इलाके में स्कूल दिखते हैं क्या. केजरीवाल जी 50 कॉलेज मांगती है दिल्ली आपसे. सीसीटीवी लगाए लेकिन उसका सिस्टम नहीं लगा, बिना फुटेज गुनाहगार कैसे पकड़े जाएंगे. कैमरे भी 50 लाख नहीं लगवाए.

केजरीवाल सरकार पर किए कई हमले

गृह मंत्री ने आगे कहा कि आपने कहा था फ्री वाई-फाई देंगे कहीं आया है क्या. इन्होंने कहा था यूरोप जैसी सड़क बनाएंगे लेकिन पता ही नहीं चलता है कि गड्ढे में सड़क है या सड़क में गड्ढा. कहा था यमुना को निर्मल कर देंगे तो मैं केजरीवाल को चैलेंज देता हूं कि वो अपना शर्ट उतारकर यमुना में डुबकी लगाकर दिखा दें.

यह भी पढ़ें: अमित शाह के खिलाफ AAP पहुंची चुनाव आयोग

केजरीवाल सरकार पर हमला जारी रखते हुए शाह ने कहा कि 5000 नई डीटीसी बस लेनी थी, जी थी उसमें 1000 कम कर दी, स्थाई नौकरी किसी को नहीं मिली.  21 शहर में सबसे खराब पानी दिल्ली का, दिल्ली की हवा को शुद्ध करने को कहा, केजरीवाल सरकार की अकर्मण्यता जिम्मेदार है, दिल्ली की हवा जहरीली है. दिल्ली की हवा में जहर घुला है.

झुग्गी झोपड़ी की जगह देंगे पक्का मकान

मोदी सरकार की तारीफ करते हुए अमित शाह ने कहा कि मोदी जी ने कहा था कि झुग्गी झोपड़ी को वहीं पर पक्का मकान देंगे, 5 साल में कर के देंगे. मोदी जी नई योजना लेकर आए हैं. अनाधिकृत कॉलोनी को लेकर लोग सालों से परेशान थे. मोदी जी ने कर दिया, 500-1000 रुपये की मामूली राशि में 40 लाख लोगों को मालिक बनने का काम मोदी जी ने किया है. 5 साल में हर कॉलोनी में हर सुविधा देंगे.

राम मंदिर पर भी बोले अमित शाह

साढ़े पांच सौ साल से देश का हर व्यक्ति चाहता था कि अयोध्या में राम मंदिर बने. लेकिन जब भी केस आता था कांग्रेस, केजरीवाल, ममता ये सारे के सारे और राहुल एंड कंपनी तारीख पर तारीख लेते जाते थे और केस को चलने नहीं देते थे. आपने मोदी जी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाया. उसके बाद सुप्रीम कोर्ट में केस चला. सुप्रीम कोर्ट के पांचों जजों ने कहा कि जहां राम का जन्म हुआ वहीं मंदिर बनेगा.

यह भी पढ़ें: क्या कन्हैया की तरह शरजील को भी चुनावी हथियार बनाएगी बीजेपी?

शाह ने आगे कहा कि मुझे समझ नहीं आता है कि अयोध्या में राम मंदिर बनने से कांग्रेस और आप पार्टी के पेट में दर्द क्यों होता है. उनको अपनी वोट की चिंता है. 4 महीने के अंदर आसमान से ऊंचा श्रीराम का मंदिर बनाने की शुरुआत अयोध्या में होने जा रहा है.

कश्मीर और सर्जिकल स्ट्राइक पर भी की बात

भाषण में कश्मीर का जिक्र लाते हुए गृह मंत्री ने कहा कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है कि नहीं है, सब 370 का विरोध करते थे, कहते थे खून की नदियां बहेंगी, क्या हुआ बताओ. इनको डर था कि वोटबैंक नाराज हो जाएंगे, आप वोटबैंक हो क्या. सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक कर के हमने दिया. केजरीवाल और राहुल गांधी सबूत मांगते रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *